COVID-19 वैक्सीन के CoWIN सर्टिफिकेट से हटा दी गई नरेंद्र मोदी की फोटो

कोविड महामारी के दौर में वैक्सीनेशन करवाने पर स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से हर नागरिक को वैक्सीन सर्टिफिकेट जारी किया गया था. जिस पर नरेंद्र मोदी की फोटो लगी थी लेकिन अब इनकी फोटो को हटा दिया गया है.

May 3, 2024 - 12:27
May 3, 2024 - 16:15
 0
COVID-19 वैक्सीन के CoWIN सर्टिफिकेट से हटा दी गई नरेंद्र मोदी की फोटो

कोविड वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीर को हटा दिया गया है. कोरोना महामारी के दौर में वैक्सीनेशन करवाने के बाद केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा सर्टिफिकेट जारी किए गए थे, जिस पर नीचे की ओर पीएम मोदी की तस्वीर होती थी. तस्वीर में 'Together, India will defeat COVID-19' कैप्शन होता था. हालांकि, अब कैप्शन तो मौजूद है, लेकिन पीएम मोदी की फोटो नदारद है. 

दरअसल, संदीप मनुधाने नाम के एक एक्स यूजर ने अपने कोविड वैक्सीन सर्टिफिकेट की तस्वीर शेयर करते हुए बताया कि इस पर से पीएम की फोटो को हटा दिया गया है. उन्होंने लिखा, "मोदी जी अब कोविड वैक्सीन सर्टिफिकेट पर नजर नहीं आ रहे हैं. इसे चेक करने के लिए अभी वैक्सीन सर्टिफिकेट डाउनलोड किया, उनकी तस्वीर इस पर से गायब हो चुकी है." अब ऐसे में सवाल उठता है कि आखिर पीएम मोदी की तस्वीर को कोविड सर्टिफिकेट पर से क्यों हटाया गया है. 

द प्रिंट की रिपोर्ट के मुताबिक, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के अधिकारियों ने बताया है कि वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट से पीएम मोदी की तस्वीर इसलिए हटाई गई है, क्योंकि लोकसभा चुनाव को लेकर आदर्श आचार संहिता लागू है. यही बातें संदीप मनुधाने ने भी अपने ट्वीट में कही हैं. लोकसभा चुनाव को लेकर दो चरण की वोटिंग हो चुकी है. वर्तमान में आदर्श आचार संहिता लागू है, जो चुनाव खत्म होने के बाद ही समाप्त होगी. 

पहले भी सर्टिफिकेट से हटी पीएम मोदी की तस्वीर

हालांकि ये पहला मौका नहीं है, जब पीएम मोदी की तस्वीर को कोविड वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट से हटाया गया है. 2022 में गोवा, मणिपुर, उत्तराखंड, पंजाब और उत्तर प्रदेश समेत कई राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव के दौरान भी प्रधानमंत्री की तस्वीर सर्टिफिकेट से हटा दी गई थी. चुनाव आयोग की तरफ से ऐसा करने का निर्देश दिया गया था. पीएम मोदी की तस्वीर को लेकर चर्चा ऐसे समय पर हो रही है, जब कोविशील्ड वैक्सीन को लेकर विवाद चल रहा है. 

वैक्सीन निर्माता एस्ट्राजेनेका ने कहा है कि इस वैक्सीन से साइड इफेक्ट हो सकते हैं. ब्रिटेन में चल रहे एक केस के दौरान एस्ट्राजेनेका ने इस बात को कबूल किया कि उसकी वैक्सीन से खून के थक्के जम सकते हैं. एस्ट्राजेनेका के फॉर्मूले पर ही भारत में कोविशील्ड वैक्सीन बनाई गई थी. 

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow