Lok Sabha Elections 2024: 'क्या आप PM उम्मीदवार हैं?' राहुल के ऑफर पर स्मृति ईरानी ने कसा तंज

स्मृति ईरानी ने राहुल पर हमला करते हुए कहा कि जिस व्यक्ति में अपने तथाकथित गढ़ में एक सामान्य BJP कार्यकर्ता के खिलाफ चुनाव लड़ने की हिम्मत नहीं है, वही पीएम मोदी से क्या डिबेट करेगा.

May 12, 2024 - 13:39
 0
Lok Sabha Elections 2024: 'क्या आप PM उम्मीदवार हैं?' राहुल के ऑफर पर स्मृति ईरानी ने कसा तंज

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने प्रमुख चुनावी मुद्दों पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ सार्वजनिक बहस की पेशकश करने वाले राहुल गांधी पर कटाक्ष किया है। अमेठी से बीजेपी उम्मीदवार स्मृति ईरानी ने सवाल किया कि क्या राहुल गांधी इंडिया ब्लॉक के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार हैं और क्या वह पीएम मोदी के कद के व्यक्ति के साथ बहस कर सकते हैं.

समाचार एजेंसी एएनआई से बात करते हुए स्मृति ईरानी ने कहा कि सबसे पहले, जिस व्यक्ति में अपने तथाकथित गढ़ में एक सामान्य भाजपा कार्यकर्ता के खिलाफ चुनाव लड़ने की हिम्मत नहीं है, उसे घमंड करने से बचना चाहिए। दूसरा, पीएम मोदी के साथ कौन बैठकर बहस करना चाहता है? मैं पूछना चाहता हूं कि क्या वह इंडिया ब्लॉक के पीएम उम्मीदवार हैं तो कृपया बताएं.

राहुल ने शनिवार को बहस का प्रस्ताव स्वीकार कर लिया था

केरल की वायनाड और उत्तर प्रदेश की रायबरेली लोकसभा सीट से चुनाव लड़ रहे राहुल गांधी ने शनिवार (11 मई 2024) को लोकसभा चुनाव पर पीएम मोदी के साथ सार्वजनिक बहस का निमंत्रण औपचारिक रूप से स्वीकार कर लिया। यह निमंत्रण सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज मदन बी लोकुर, हाईकोर्ट के पूर्व मुख्य न्यायाधीश एपी शाह और वरिष्ठ पत्रकार एन राम ने दिया था.

स्मृति ईरानी ने कांग्रेस अध्यक्ष की आलोचना की

राहुल गांधी ने कहा कि इस तरह की बहस से लोगों को हमारे संबंधित दृष्टिकोण को समझने में मदद मिलेगी और वे बेहतर विकल्प चुन सकेंगे. उन्होंने यह भी कहा कि उन्हें या कांग्रेस प्रमुख मल्लिकार्जुन खड़गे को इसमें भाग लेने में खुशी होगी. इस बीच स्मृति ईरानी ने लोकसभा चुनाव में वोटिंग के आंकड़ों पर सवाल उठाने को लेकर खड़गे की आलोचना की और कांग्रेस पर तीखा हमला बोला.

ये आरोप कांग्रेस पर लगाए गए

स्मृति ईरानी ने कहा कि कांग्रेस ने लोगों की संपत्ति के सर्वे की बात की थी. कांग्रेस राम मंदिर पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले को पलटने की बात कर रही है. ये सभी मुद्दे सिर्फ पीएम के नहीं बल्कि राष्ट्रीय मुद्दे हैं. प्रत्येक नागरिक को उन पर राय रखने का अधिकार है। अगर खड़गे सोचते हैं कि जागरूक मतदाताओं और नागरिकों को राष्ट्रीय राजनीति में रुचि नहीं लेनी चाहिए, तो शायद हर कोई राहुल गांधी की तरह सोच रहा है।

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow