Scabies Decease : लखनऊ में स्केबीज का आतंक, डॉक्टर से जानें इसके लक्षण और बचाव

राजधानी लखनऊ में इन दिनों एक रहस्यमयी कीड़े ने आतंक मचाया हुआ है. इसके काटने से लोगों को स्किन से जुड़ी गंभीर बीमारी हो रही हैं. शहर के सरकारी अस्पतालों में त्वचा रोग विशेषज्ञ की ओपीडी में 30 से 40 मरीज प्रतिदिन आ रहे हैं. जो इस बीमारी से परेशान हैं. इससे लखनऊ शहर में दहशत का भी माहौल है.

Nov 30, 2023 - 12:15
Nov 30, 2023 - 12:21
 0
Scabies Decease : लखनऊ में स्केबीज का आतंक, डॉक्टर से जानें इसके लक्षण और बचाव

राजधानी के लोकबंधु संयुक्त चिकित्सालय के त्वचा रोग विशेषज्ञ डॉ. विमल सिंह ने इस बीमारी को स्केबीज बताया है. यह बीमारी एक छोटे से कीड़े की वजह से होती है. यह कीड़ा शरीर के नमी वाले हिस्सों पर अपना घर बना लेता है. उन्होंने यह भी बताया कि इसमें खुजली काफी होती है, खासतौर पर रात के वक्त मरीज को ज्यादा परेशानी होती है मरीज ठीक से सो नहीं पाता है. यह बीमारी छुआछूत की होती है, मतलब साफ है कि अगर घर में किसी एक को हुई तो सभी को होने की संभावनाएं हैं. सर्दी के मौसम में लोग एक ही कंबल, एक दूसरे की जैकेट, स्वेटर और बिस्तर का इस्तेमाल करते हैं, जिससे यह बीमारी फैलने का खतरा ज्यादा है.

स्केबीज का मुख्य कारण

1. डॉ. विमल सिंह बताते हैं कि स्केबीज होने का कारण यह है कि एक छोटा सा कीड़ा त्वचा के नीचे सुरंग बनाता है और गंभीर खुजली का कारण बनता है.
2. यह कीड़ा एक छोटी सी भूरे रंग की चींटी की तरह दिखता है, यह लगभग 0.3 मिली मीटर लंबा होता है.
3. यह त्वचा में छेद करता हैं फिर त्वचा में सुरंग नुमा छेद बन जाते हैं, जिसमें मादा कीट अपने अंडे देती है. अंडे फूटने पर उनसे निकलने वाले कीट त्वचा की अलग-अलग दिशाओं में फैलने लगते हैं.
4. यह कीट कपड़े या बिस्तर पर भी 3 से 4 दिन तक जिंदा रह सकते हैं. आपको बता दें कि मादा कीट हर दिन लगभग 3 से 4 अंडे देती है और 30 अंडे देने के बाद मर जाती है, इसका संक्रमण तेजी से बढ़ता है.

स्केबीज को कैसे पहचानें

1. रात के वक्त खुजली होती है. खुजली बहुत ही असहनीय हो जाती है, जिससे त्वचा पर घाव बन जाता है और ये घाव संक्रमण को बढ़ाने का काम करता है.
2. स्किन पतली भी हो जाती है और स्किन पर मोटी पपड़ी बन जाती है. 
3. जब किसी व्यक्ति में गंभीर स्केबीज विकसित हो जाता है, तो शरीर पर चकत्ते भी निकल आते हैं.

कैसे करना है बचाव

1. नरात के वक्त त्वचा में तेज खुजली होना इसका प्रमुख लक्षण है. तेज खुजली होने पर तुरंत डॉक्टर की सलाह लें.
2. स्केबीज से बचने के लिए साफ-सफाई का ध्यान रखें. अपने शरीर को साफ और स्वच्छ रखना जरूरी है.
3. स्केबीज के माइट्स फर्नीचर, कपड़ों और बिस्तर से भी फैल सकते हैं. शरीर के साथ-साथ इन चीजों को भी साफ रखें.
यह बीमारी जिसे हो जाए, तो उसका बिस्तर या उसके कपड़ों का इस्तेमाल न करें.

डॉक्टर ने क्या कहा-

डॉ. विमल सिंह ने बताया कि इसमें इलाज संभव है. ठीक होने में दो से तीन हफ्ते का वक्त लगता है. मार्केट में उपलब्ध कोई भी क्रीम खुद से खरीद के न लगाएं. डॉक्टर से सलाह लें और डॉक्टर के अनुसार ही दी जाने वाली क्रीम या फिर दवा का सेवन करें.

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow